Air India Express Plane Crashed in Kerala: केरल भीषण विमान हादसे में विमान के 2 टुकड़े,देखे वीडियो

Air India Express Plane Crashed in Kerala: बीते दिन लगभग शाम 07:30 PM बजे दुबई से केरल के कोझिकोड (Kozhikode) आ रहे एअर इंडिया एक्सप्रेस (Air India Express) का एक विमान बारिश के कारण कोझिकोड हवाईअड्डे (Kozhikode Airport) पर रनवे से फिसलकर 35 फुट नीचे गिर गया और दो हिस्सों में टूट गया। हादसे के बाद मची चीख-पुकार, खून से सने कपड़े, डरे सहमे रोते हुए बच्चे और एंबुलेंस के सायरन की आवाजों ने पुरे इलाके को जैसे दहला सा दिया हो। इस दुर्घटना में दोनों पायलट सहित कम से कम 17 लोगों की मौत हो गई।

Air India Express Plane Crashed in Kerala: केरल भीषण विमान हादसे में विमान के 2 टुकड़े,देखे वीडियो

Air India Express Plane Crashed in Kerala: बारिश के बीच स्थानीय नागरिकों और पुलिस सहित बचावकर्मियों ने विमान से घायल यात्रियों को बाहर निकालने में फुर्ती दिखाई और आननफानन में स्थानीय अस्पताल पहुंचाया गया। विमान तेज आवाज के साथ दो बड़े टुकड़ों में टूट गया। बताया जा रहा है की इस विमान में क्रू मेंबर सहित करीब 190 यात्री सफर कर रहे थे।


केरल के कोझिकोड में विमान हादसे (Kozhikode Plane Crash) में अब तक 18 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 24 अन्य गंभीर रुप से घायल बताए जा रहे हैं। देर रात तक चले रेस्क्यू ऑपरेशन में सभी घायलों को प्लेन से बाहर निकाला जा चुका है, घायलों का इलाज कोझिकोड के अलग-अलग अस्पतालों में चल रहा है।


अभी तक मिले जानकारी के अनुसार मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कोझीकोड विमान दुर्घटना के जांच के आदेश दिए हैं। पुरी ने कहा कि इस मामले में एयरक्राफ्ट एक्सीडेंट इन्वेस्टिगेशन ब्यूरो (AAIB) एक औपचारिक जांच करेगी। AAIB, नगर विमानन मंत्रालय का एक विभाग है, जो कि देश में विमान हादसों और दुर्घटनाओं की जांच करता है।



Air India Express Plane Crashed in Kerala:कौन थे दीपक वसंत साठे?


शुक्रवार को हुए इस हादसे में विमान के कप्तान विंग कमांडर दीपक वसंत साठे की भी मौत हो गई। उन्हें जानने वाले लोगों का कहना है कि वे भारतीय वायु सेना के बड़े फाइटर थे जिन्होंने अपने 22 साल के करियर के दौरान सोवियत मूल के मिग -21 लड़ाकू विमानों को उड़ाना सीख लिया था। 59 साल के दीपक साठे जिनकी विमान दुर्घटना में मौत हो गई उन्हें जून 1981 में हैदराबाद के पास डुंडीगल में वायु सेना अकादमी से ग्रेजुएट होने पर 'स्वॉर्ड ऑफ ऑनर' नाम का सम्मान मिला था। वे भारतीय वायु सेना के फाइटर, प्रतिष्ठित राष्ट्रीय रक्षा अकादमी, खडकवासला के पूर्व छात्र और निपुण पायलेट थे।

Subscribe to Our Newsletter

  • White Facebook Icon

© All Rights reserved for Befikar Postman