Delhi Metro Update: दिल्ली मेट्रो वापस दौरने को तैयार, ध्यान से पढ़े क्या करना है क्या नहीं

Delhi Metro Update: कोरोना संक्रमण की वजह से पिछले 5 महीने से बंद दिल्ली मेट्रो (Delhi Metro) अनलॉक- 4 में 1 सितंबर से चालू होने की सम्भावना है। दिल्ली सरकार के निर्देश के बाद DMRC ने दिल्ली मेट्रो (Delhi Metro) संचालन के लिए तैयारी पूरी कर ली है। यदि 1 सितंबर से दिल्ली मेट्रो ट्रेन (Delhi Metro) खुलती है तो लोगों का सफर अब पहले जैसा सामान्य नहीं रहेगा।

Delhi Metro Update: दिल्ली मेट्रो वापस दौरने को तैयार, ध्यान से पढ़े क्या करना है क्या नहीं

कोरोना संक्रमण से बचने के लिए उन्हें DMRC की ओर से तैयार की गई नियमावली का कड़ाई से पालन करना होगा।


Delhi Metro Update: सोशल डिस्टन्सिंग पर मेन फ़ोकस


जानकारी के मुताबिक अनलॉक-4 में मेट्रो के सिर्फ़ 38 फ़ीसदी गेटों से ही यात्रियों की एंट्री- एग्ज़िट होगी। राजीव चौक, कश्मीरी गेट, केंद्रीय सचिवालय, हौज खास जैसे बड़े स्टेशनों पर प्रवेश- निकास के लिए केवल 2 गेट खुलेंगे। इससे लोगों पर निगरानी रखने और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाने में आसानी होगी। आपको बता दे की दिल्ली मेट्रो के तमाम स्टेशनों पर 671 गेट हैं. जिनमें से केवल 257 ही खोले जाएंगे।


Delhi Metro Update: मेट्रो में 20 फ़ीसदी यात्री ही सफ़र कर पाएंगे


दिल्ली मेट्रो (Delhi Metro) में सोशल डिस्टन्सिंग का सख़्ती से पालन करने के किए सीट और स्टेशन पर स्टिकर लगाए जा रहे हैं। दिल्ली मेट्रो (Delhi Metro) के एक कोच में क़रीब 50 यात्री होंगे। वही एक बार में पूरी मेट्रो ट्रेन में केवल 300-400 यात्री ही सफ़र कर सकेंगे। जबकि इससे पहले 6 कोच की ट्रेन में औसतन 1500 यात्री सफ़र करते थे। दिल्ली मेट्रो (Delhi Metro) स्टेशनों की लिफ़्ट में एक वक्त में केवल 3 यात्रियों को आने- जाने की अनुमति होगी।


Delhi Metro Update: प्लेटफार्म पर ज्यादा देर रूकेगी ट्रेन, यात्रा का समय बढ़ेगा


आम दिनों की तुलना में दिल्ली मेट्रो (Delhi Metro) के सभी स्टेशन पर ट्रेन ज्यादा देर तक रूकेगी। मगर इंटरचेंज स्टेशन जहां पर अधिक भीड़ होती है वहां ट्रेन को 20-30 सेकेंड अधिक समय के लिए रोका जाएगा। आम दिनों में एक स्टेशन पर दिल्ली मेट्रो (Delhi Metro) ट्रेन 15 स 20 सेकेंड तक रूकती है। अब इसे कम भीड़ वाले स्टेशन पर 30 सेकेंड तक रोकने की तैयारी है। मगर इंटरचेंज वाले स्टेशन या फिर ज्यादा भीड़ वाले स्टेशनों पर 40 से 50 सेकेंड तक रूकेगा। इसका प्रभाव यह होगा की आपके यात्रा का समय बढ़ेगा। अभी द्वारका से बॉ़टेनिकल गार्डन (ब्लू लाइन) की 56 किलोमीटर की लाइन पर 65 मिनट से अधिक समय लगता है। मगर आने वाले दिनों में इसमें 10 से 15 मिनट तक का इजाफा हो जाएगा।


Delhi Metro Update: सीसीटीवी, वालंटियर करेंगे निगरानी


स्टेशन पर कही भीड़ एकत्रित ना हो इसके लिए तकनीकी के साथ दिल्ली मेट्रो (Delhi Metro) मैन पावर का भी प्रयोग करेगी। स्टेशन के अंदर लगे सीसीटीवी कैमरे से स्टेशन कंट्रोलर इसकी निगरानी करेगा। इसके अलावा दिल्ली मेट्रो (Delhi Metro) के पास एक वालंटियर्स की टीम है। इस टीम का प्रयोग ऐसे मौके पर किया जाता है। दिल्ली मेट्रो (Delhi Metro) परिचालन के दौरान इस टीम को भी ज्यादा भीड़ वाले स्टेशनों पर उतारा जाएगा। इसके अलावा बड़े इंटरचेंज स्टेशन पर 11 इवेंट कार्नर है। जहां पर जागरूकता व जानकारी के लिए प्रयोग किया जाएगा। वहां स्क्रीन, फ्लैक्स बोर्ड पर निर्देशों के जरिए लोगों को जागरूक किया जाएगा।


लेकिन बड़ा सवाल तो यह भी है की जहां पहले 6 कोच में लगभग 1200 लोग सफर करते थे अब सिर्फ 300-400 लोग ही सफर कर पाएंगे ऐसे में भीड़ को दिल्ली मेट्रो कैसे कंट्रोल करेंगी। आज लाखो लोग Delhi-NCR के एक छोर से दूसरे छोर तक और Gurugram में नौकरी करने जाते है ऐसे में मेट्रो स्टेशन पर भीड़ और लम्बी लाइनों का होना लाजमी है।

6 views

Subscribe to Our Newsletter

  • White Facebook Icon

© All Rights reserved for Befikar Postman