India Vs China: "इस बार 1962 के युद्ध से ज़्यादा बुरा होगा हाल ": चीन, भारत LAC पर शख्त

लद्दाख में गलवान घाटी में हिंसक झड़प के बाद भारत ने LAC पर सख्ती बढ़ा दी| चीन के उपर अब हर तरफ से दबाव बढ़ता जा रहा है| जिसके बाद चीन गीदड़भभकी पर उतर आया है|

India Vs China: "इस बार 1962 के युद्ध से ज़्यादा बुरा होगा हाल ": चीन, भारत LAC पर शख्त

चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स ने धमकी भरे लहजे में लिखा है कि भारत जानता है कि चीन के साथ जंग नहीं की जा सकती है, क्योंकि नई दिल्ली को पता है कि अब अगर युद्ध हुआ तो उसका हाल 1962 की लड़ाई से भी बुरा हाल होगा|


ग्लोबल टाइम्स ने एक चीनी विश्लेषक के हवाले से लिखा कि गलवान घाटी में सीमा संघर्ष के बाद भारत के भीतर चीन के खिलाफ राष्ट्रवाद और शत्रुता तेजी से बढ़ रही है| जबकि चीनी विश्लेषकों और भारत के अंदर भी कुछ लोगों ने चेतावनी दी थी कि नई दिल्ली को घर में राष्ट्रवाद को शांत करना चाहिए|


ग्लोबल टाइम्स में रविवार को प्रकाशित रिपोर्ट में एक चीनी विश्लेषक ने कहा कि अगर नए सिरे से फिर युद्ध होता है तो चीन के साथ 1962 के सीमा विवाद के बाद भारत और अधिक अपमानित होगा, यदि वह घर में चीन विरोधी भावना को नियंत्रित नहीं कर सकता है|


रिपोर्ट में कहा गया है कि भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कहा था कि उनकी सरकार ने सशस्त्र बलों को कोई भी आवश्यक एक्शन लेने की पूरी आज़ादी दी है| हालांकि पीएम मोदी तनाव को कम करने की कोशिश करते हुए भी दिखाई दिए|


बता दें कि एक हिंसक झड़प में 20 भारतीय जवान शहीद हो गए थे, जबकि गलवान घाटी में वास्तविक सीमा रेखा पर चीनी पक्ष के 70 से अधिक सैनिक घायल हो गए थे|

18 views

Subscribe to Our Newsletter

  • White Facebook Icon

© All Rights reserved for Befikar Postman