क्या मानसून के साथ आ रहा है एक और ख़तरा, सामने आई डराने वाली स्टडी, ज़रूर पढ़े

देश में कोरोना वायरस के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. कोरोना के शुरुआती दौर में कयास लगाए जा रहे थे कि गर्मी का मौसम आने के बाद कोरोना कमजोर पड़ने लगेगा. हालांकि ऐसा होता दिखाई नहीं दे रहा है.

क्या मानसून के साथ आ रहा है एक और ख़तरा, सामने आई डराने वाली स्टडी,

इन सब के बीच इंडियन इंस्‍टीट्यूट ऑफ टेक्‍नोलॉजी बॉम्‍बे ने कोरोना वायरस के संक्रमण और मौसम के कनेक्शन पर एक स्टडी की है. इस स्टडी में बताया गया है कि मानसून के आने के साथ ही कोरोना का संक्रमण और तेजी से बढ़ सकता है. स्टडी के मुताबिक ह्यूमिडिटी बढ़ने पर वातावरण में कोरोना अधिक समय तक रह सकता है.


मानसून में और खतरनाक बन जाएगा कोरोना


मानसून में और खतरनाक बन जाएगा कोरोना वायरस पर यह स्टडी IIT बॉम्बे के प्रोफेसर रजनीश भारद्वाज और अमित अग्रवाल ने मिलकर की है, दोनों प्रोफेसर ने कोरोना वायरस मरीज की छींक से निकलने वाले ड्रापलेट को सुखाया और उसके बाद उसकी तुलना ड्राई प्लेस में रहने वाले वायरस से की, जिसमें उन्होंने पाया कि नमी वाले इलाके में वायरस के रहने की क्षमता 5 गुना तक ज्यादा थी, इस स्टडी के बाद लोगों की चिंता बढ़ गई है क्योंकि अब तो मानसून सीजन शुरू ही हो गया है, देश के कई राज्यों में मानसून ने दस्तक दे दी है और कहीं पर देने वाला है ऐसे में सही में लोगों को काफी सतर्क रहने की जरूरत है।


इन शहरो मे हो सकता है भारी नुकसान


प्रोफेसर अमित अग्रवाल ने कहा कि अगर ह्यूमिडिटी कोरोना वायरस के संक्रमण को ज्यादा देर तक रख सकता है तो मुंबई, केरल और गोवा जैसे राज्यों के लिए आने वाले समय में स्थिति और खराब हो सकती है। हालांकि बहुत से लोग इस स्टडी से इत्तेफाक नहीं रखते हैं। कुछ लोगों का कहना है कि हाई ह्यूमिडिटी लेवल मुंबई में कोरोना को खत्म करने में कारगर साबित हो सकता है।


ऐसे में अब डर इस बात का है कि मुंबई में जल्द ही मानसून दस्तक देने वाला है. मानसून में यहां पर ह्यूमिडिटी का स्तर 80 प्रतिशत से ज्यादा हो जाता है. ऐसे में कोरोना के संक्रमण के मामले मानसून के दौरान और तेजी से बढ़ सकते हैं.


अभी क्या हाल है मुंबई का


महाराष्ट्र में कोरोना मरीजों की संख्या एक लाख के पार चली गई है. राज्य के स्वास्थ्य अधिकारियों के मुताबिक, प्रदेश में कोरोना संक्रमण के केस बढ़कर 1,01,141 हो गए हैं. शुक्रवार को महाराष्ट्र में 3493 नए केस सामने आए. अकेले मुंबई में 1372 नए केस रिपोर्ट हुए. शुक्रवार को 1718 मरीज ठीक हुए. इस तरह से अब तक 47, 793 लोग इस महामारी से ठीक हो चुके हैं.

11 views

Subscribe to Our Newsletter

  • White Facebook Icon

© All Rights reserved for Befikar Postman