Petrol-Diesel Price- कोरोना काल में बेरोजगारी के साथ महंगाई की दोहरी मार, फिर बढ़े तेल के दाम

कोरोना थमने का नाम नही ले रहा है, वही रोज आम आदमी अपने रोज़गार के हाथ धो रहे है. इसी बीच रोजाना पिछले नौ दिनो से तेल कंपनिया और सरकार अपनी अपनी जेबे भरने मे लगे हुए है. पेट्रोल और डीजल की कीमतों में सोमवार को 9वें दिन वृद्धि की गई है. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में पेट्रोल का भाव 48 पैसे प्रति लीटर और डीजल का भाव 59 पैसे बढ़ा है.

Petrol-Diesel Price- कोरोना काल मे बेरोज़गारी के साथ मंहगाई की दोहरी मार, फिर बढ़े तेल के दाम

पेट्रोल और डीज़ल की कीमतों (Petrol-Diesel Price) में सोमवार को 9वें दिन वृद्धि की गई है. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में पेट्रोल का भाव 48 पैसे प्रति लीटर और डीज़ल का भाव 59 पैसे बढ़ा है. देश की सबसे बड़ी खुदरा तेल कंपनी इंडियन ऑयल की अधिसूचना के मुताबिक, दिल्ली में पेट्रोल 75.78 रुपये से बढ़कर 76.26 रुपये प्रति लीटर जबकि डीज़ल 74.03 रुपये से बढ़कर 74.62 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गया है.


देशभर में ईंधन की कीमतें बढ़ाई गई हैं लेकिन प्रत्येक राज्य में वैट अथवा स्थानीय बिक्री कर के आधार पर इनके दामों में अंतर हो सकता है. तेल कंपनियों ने 82 दिनों तक कीमतों की समीक्षा को स्थगित रखने के बाद रविवार को लागत के अनुरूप फेरबदल की शुरुआत की थी.


अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में गिरावट के लाभ को सोखने के लिए सरकार ने 14 मार्च को पेट्रोल और डीजल पर उत्पाद शुल्क में तीन रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी की थी, जिसके बाद तेल कंपनियों ने कीमतों की दैनिक समीक्षा रोक दी थी. इसके बाद सरकार ने छह मई को एक बार फिर पेट्रोल पर उत्पाद शुल्क को 10 रुपये प्रति लीटर और डीजल पर 13 रुपये प्रति लीटर बढ़ा दिया। इस वृद्धि के बाद पेट्रोल पर कुल उत्पाद शुल्क बढ़कर 32.98 रुपये लीटर और डीजल पर 31.83 रुपये प्रति लीटर तक पहुंच गया.


कोरोना वायरस महामारी के कारण कच्चे तेल की कीमत अप्रैल में एक दशक के सबसे निचले स्तर पर जा पहुंची थी. उसके वाबजूद भारत मे पेट्रोल और डीजल के कीमतो मे बढ़ोतरी हो रही है. करोना कल मे आम आदमी पर बेरोज़गारी के साथ साथ मंहगाई की दोहरी मार पर रही है.

14 views

Subscribe to Our Newsletter

  • White Facebook Icon

© All Rights reserved for Befikar Postman