PM Modi Apps challenge: PM मोदी ने युवाओं को दिया ऐप बनाने का चैलेंज

बीते दिनों में भारत में 59 चीनी ऐप्‍स को बैन करने के बाद पीएम मोदी ने आत्‍मनिर्भर भारत की दिशा में आगे बढ़ने के लिए युवाओं को प्रेरित करने में जुट गए है। उन्‍होंने इसके लिए आत्‍मनिर्भर भारत ऐप इनोवेशन चैलेंज लांच करते हुए युवाओं से आहवान किया (PM Modi Apps challenge) कि वह ऐप्‍स बनाएं।

PM Modi Apps challenge: PM मोदी ने युवाओं को दिया ऐप बनाने का चैलेंज

इसके लिए पीएम मोदी ने आत्‍मनिर्भर भारत ऐप इनोवेशन चैलेंज को लांच किया है। आत्‍मनिर्भर भारत मिशन के तहत स्‍टार्ट-अप और टेक कम्‍युनिटी की मदद के लिए इसको लांच किया गया है।

पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा कि आज जब पूरा देश आत्‍मनिर्भर भारत के सपने को साकार करने की दिशा में अग्रसर है तो ऐसे में यह अच्‍छा अवसर है कि ऐसे प्रयत्‍नों को प्रोत्‍साहित किया जाए जोकि ऐसे ऐप्‍स बनाएं जो हमारे बाजार को संतुष्‍ट करने के साथ-साथ दुनिया के साथ भी प्रतिस्‍पर्द्धा में खड़े उतर सकें।


साथ ही पीएम मोदी ने कि हमारे युवा भी आगे बढ़ें और फेसबुक, ट्विटर जैसे ही भारतीय ऐप बनाएं। उन्‍होंने लिंक्‍डइन पर अपने विचारों को साझा करते हुए कहा कि मैं भी आपके बनाए ऐसे ऐप्‍स को ज्‍वाइन करूंगा।


इस संबंध में ट्वीट कर कहा कि टेक और स्‍टार्ट-अप कम्‍युनिटी के बीच आज विश्‍वस्‍तरीय मेड इन इंडिया ऐप्‍स बनाने के लिए अपार उत्‍साह है। ऐसे में उनके विचारों और प्रोडक्‍ट को प्रोत्‍साहित करने के लिए @GoI_MeitY और @AIMtoInnovate मिलकर इनोवेशन चैलेंज शुरू कर रहे हैं।


PM Modi Apps challenge: दो ट्रैक में पूरा होगा ये चैलेंज


पहला ट्रैक: मौजूदा ऐप्‍स को प्रोत्‍साहन देने का काम किया जायेगा साथ ही अच्छे गुणवत्ता वाले ऐप्प्स की पहचान भी किया जायेगा। ई-लर्निंग, वर्क फ्रॉम होम, गेमिंग, बिजनेस, एंटरटेनमेंट, ऑफिस यूटिलिटीज और सोशल नेटवर्किंग की श्रेणियों वाले ऐप्‍स को सरकार गाइड करने के साथ सपोर्ट करेगी।


दूसरा ट्रैक: नए ऐप्‍स और प्‍लेटफॉर्म बनाने के लिए विचार के स्‍तर से लेकर के बाजार की पहुंच तक सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी।


गौरतलब है कि 15 जून को गलवान घाटी में चीन के साथ खुनी झड़प में जवानों की शहादत के बाद भारत ने डिजिटल स्‍ट्राइक करते हुए चीन के 59 ऐप्‍स को बैन कर दिया। उसके बाद शुक्रवार को लेह जाकर पीएम मोदी ने कहा कि भारतीय सेना ने जो पराक्रम दिखाया, उससे दुनिया को भारत की ताकत का संदेश मिल गया। साथ ही उन्‍होंने किसी देश का नाम लिए बिना कहा कि विस्तारवाद का युग समाप्त हो चुका है और यह युग विकासवाद का है।


Subscribe to Our Newsletter

  • White Facebook Icon

© All Rights reserved for Befikar Postman