क्या सचिन पायलट सिंधिया के रास्ते पर चल रहे है? क्या राजस्थान सरकार गिरने वाली है? पढ़िए यह रिपोर्ट

राजस्थान में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उप-मुख्यमंत्री सचिन पायलट के बीच चल रही आपसी मतभेद की वजह से सरकार गिरने की घंटी बजती नजर आ रही हैं। कांग्रेस की इस राजनैतिक संकट और दोनों के बिच मतभेद को एक लंबा वक्त गुजर जाने के बाद आज अशोक गहलोत सहित 5 वरिष्ठ नेता सचिन पायलट को समझाने और मनाने में लगे हुए है।

क्या सचिन पायलट सिंधिया के रास्ते पर चल रहे है? क्या राजस्थान सरकार गिरने वाली है? पढ़िए यह रिपोर्ट

हालाँकि इस मुद्दे पर राहुल गाँधी ने सार्वजनिक रूप से पूरे मसले पर चुप्पी बनाई हुई है। राहुल गाँधी के ऑफिस ने बताया, 'सचिन और राहुल दोनों एक दूसरे से सीधे बात करते हैं और यह बातचीत अक्सर होती है। उनमें एक दूसरे के लिए बहुत सम्मान और स्नेह है।'


राहुल सोमवार को दो बार ट्विटर पर ट्वीट कर चुके हैं। उन्होंने पहला ट्वीट कोरोना वायरस को लेकर किया था, जबकि दूसरे ट्वीट में उन्होंने लद्दाख में भारत-चीन सीमा विवाद के मुद्दे को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा था।


क्या है पूरा मामला?


सूत्रों की माने तो राजस्थान पुलिस के स्पेशन ऑपरेशंस ग्रुप (एसओजी) के पूछताछ को लेकर भेजे गए नोटिस के बाद से ही सचिन पायलट खफा हैं। हालांकि, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बताया है कि यह नोटिस सिर्फ सचिन को ही नहीं, बल्कि उन्हें भी मिला है।


सचिन पायलट ने दावा है कि गहलोत सरकार के पास बहुमत नहीं है और 200 सदस्यों वाली विधानसभा में से उन्हें 30 विधायकों का समर्थन हासिल है। सोमवार दोपहर को हुई विधायक दल की बैठक में विधायकों ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के समर्थन में प्रस्ताव पारित किया और सोनिया गांधी तथा राहुल गांधी के नेतृत्व में आस्था जताई है।


इसके विधायकों ने सरकार विरोधी व पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल लोगों के खिलाफ कड़ी अनुशासनात्मक कार्रवाई की मांग की, फिर चाहे वे पदाधिकारी हों या विधायक दल के सदस्य।


वहीं, दूसरी ओर पार्टी सूत्रों का दावा है कि राजस्थान में कांग्रेस के पास 106 विधायकों का समर्थन है। ये सभी विधायक गहलोत द्वारा बुलाई गई बैठक में शामिल थे। सचिन पायलट और उन्हें समर्थन देने वाले विधायकों ने बैठक में हिस्सा नहीं लिया और सचिन के अलावा कांग्रेस के तकरीबन 20 ऐसे विधायक रहे, जोकि विधायक दल की बैठक में शामिल नहीं हुए।


भाजपा पर लग रहे है आरोप


कांग्रेस लगातार इस पुरे मामले के लिए भाजपा पर आरोप लगा रहे है। आरोप यह है की भाजपा मध्यप्रदेश के जैसे राजस्थान में भी सरकार गिराने में लगी है।



4 views

Subscribe to Our Newsletter

  • White Facebook Icon

© All Rights reserved for Befikar Postman