अमेरिकी Rosen Law Firm ने HDFC Bank के खिलाफ जाँच शुरू, जानिए क्या है मामला

अमेरिका स्थित Rosen Law Firm ने HDFC Bank Ltd के शेयरधारकों (Shareholders) की ओर से संभावित Securities के दावों की जांच का ऐलान किया है, जिसमें आरोप लगाया है कि HDFC बैंक द्वारा निवेशकों (Investors) को भौतिक रूप से भ्रामक (Materially Misleading) व्यावसायिक जानकारी दी गई होगी।

अमेरिकी Rosen Law Firm ने HDFC Bank के खिलाफ शुरू की जांच, जानिए क्या है मामला

वही ये भी साफ कर दिया है की अगर जांच की रिपोर्ट HDFC के पक्ष में नहीं आता है तो HDFC Bank को मुकदमों का भी सामना करना पड़ सकता है।


आरोप: Car Loan ग्राहकों को वाहन ट्रैकिंग डिवाइस (Vehicle Tracking Device) खरीदने के लिए मजबूर किया था।


Rosen Law firm की ओर से रविवार रात को एक बयान जारी कर कहा गया है कि वह HDFC Bank के शेयरधारकों की तरफ से एक Securities Lawsuit तैयार कर रहा है। Mint ने 14 जुलाई को एक रिपोर्ट प्रकाशित किया था, जिसमें आरोप लगाया था कि बैंक ने अपने Car Loan ग्राहकों को वाहन ट्रैकिंग डिवाइस (Vehicle Tracking Device) खरीदने के लिए मजबूर किया था।


Law Firm के अनुसार, HDFC Bank ने वित्तीय वर्ष 2021 की पहली तिमाही के लिए अपने वित्तीय परिणामों की रिपोर्ट की थी, जिसमें शुद्ध लाभ के संबंध में विश्लेषक के लापता होने और इसकी संपत्ति की गुणवत्ता में गिरावट आने की रिपोर्ट है। रिपोर्ट के मुताबिक, Law Firm ने उन सभी HDFC Bank के शेयरधारकों से जानकारी मांगी है जो बैंक की Securities में अपने नुकसान की भरपाई करना चाहते हैं।


बता दें कि Rosen Law Firm दुनियाभर में निवेशकों का प्रतिनिधित्व करती है, Securities वर्ग क्रियाओं और शेयरधारक Derivative Litigation में इसके अभ्यास को केंद्रित करती है। पिछले साल Rosen Law Firm ने Infosys के खिलाफ A Class Action मुकदमा तैयार किया था। ताजा मामले के तहत अब Rosen Law Firm के अलावा एक अन्य फर्म Schall Law भी HDFC बैंक के खिलाफ कार्रवाई की तैयारी कर रही है।

13 views

Subscribe to Our Newsletter

  • White Facebook Icon

© All Rights reserved for Befikar Postman