क्या था 'ऑपरेशन लोटस' जिसने भाजपा और शिवसेना में दूरिया बना दी? पढ़िए शरद पवार का बड़ा खुलासा

एक तरफ जहां राजस्थान में कांग्रेस सरकार पर आपसी मतभेद के कारण खतरा मंडरा रही है इसी बीच एनसीपी के मुखिया शरद पवार का बड़ा बयान सामने आया है। शिवसेना के मुखपत्र सामना को दिए एक इंटरव्यू में शरद पवार ने कहा कि बीजेपी ने एनसीपी को महाराष्ट्र के चुनाव में सरकार बनाने की पेशकश की थी लेकिन महाराष्ट्र में बीजेपी का 'ऑपरेशन कमल' कामयाब नहीं हुआ।

क्या था 'ऑपरेशन लोटस' जिसने भाजपा और शिवसेना में दूरिया बना दी? पढ़िए शरद पवार का बड़ा खुलासा

बता दें कि यह इंटरव्यू शिवसेना के राज्यसभा सांसद संजय राउत को एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार ने दिया है। शरद पवार ने कहा कि राष्ट्रवादी कांग्रेस (NCP) ने सरकार बनाने के लिए बीजेपी से कभी चर्चा नहीं की, शिवसेना को दूर करके हम सरकार बनाएं ये प्रपोजल बीजेपी का था लेकिन अब ‘ठाकरे सरकार’ पांच साल तक चलेगी


शिवसेना के बीच दूरी बढ़ाने के लिए एक राजनीतिक चाल थी


दिग्गज नेता ने कहा कि उनका मानना था कि महाराष्ट्र में भाजपा को सत्ता में आने देना शिवसेना और अन्य दलों के हित में नहीं था। उन्होंने कहा कि केंद्र में भाजपा (2014 में) सत्ता में थी और अगर वह महाराष्ट्र में सत्तारूढ़ पार्टी बनती है तो यह शिवसेना के लिए नुकसान होगा। भाजपा नहीं मानती कि किसी गैर भाजपाई पार्टी को लोकतांत्रिक व्यवस्था में काम करने का अधिकार है। मुझे पता था कि सभी अन्य दलों को खतरा है। बाहर से समर्थन देने वाला बयान एक राजनीतिक चाल थी। पवार ने कहा, ‘मैं मानता हूं कि मैंने भाजपा और शिवसेना के बीच दूरी बढ़ाने के लिए कदम उठाए।' 


पवार ने पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के दावे से इनकार किया कि पवार पिछले साल सरकार बनाने के लिए भाजपा के साथ बातचीत कर रहे थे और बाद में यू-टर्न ले लिया। उन्होंने कहा कि कुछ भाजपा नेताओं ने सरकार बनाने को लेकर मुझसे और मेरे सहयोगियों से बातचीत की थी और कहा था कि वह शिवसेना को शामिल नहीं करना चाहते। उन्होंने कहा कि चूंकि मेरे प्रधानमंत्री के साथ अच्छे रिश्ते हैं, इसलिए उन्हें हस्तक्षेप करना चाहिए और मुझे अपनी सहमति देनी चाहिए। 


पवार ने कहा कि इसलिए, मुझे और मेरी पार्टी को लेकर किसी तरह के भ्रम की स्थिति या अवधारणा से बचने के लिए, मैंने संसद भवन में प्रधानमंत्री के कक्ष में उनसे मुलाकात की और उन्हें बताया कि NCP भाजपा के साथ नहीं जा सकती। अगर संभव होगा तो हम शिवसेना के साथ सरकार बनाएंगे या विपक्ष में बैठेंगे।

8 views

Subscribe to Our Newsletter

  • White Facebook Icon

© All Rights reserved for Befikar Postman